Speak up

Somethings that we always want to say but never could gather up the courage to utter the words words that can change a lot of perspective visions So I cannot tell you to either scream out loud or just whisper But I know I want to do what you also desire deep inside.

Advertisements

वक़्त को मेरी क़दर नहीं

वक़्त बहुत अजीब है ऐसे भागता है जैसे इसका कुछ छूठ रहा हो शिकायत है इसे मुझसे की मै साथ नहीं चलती अकसर देर कर देती हूँ शिकायतें तो मुझे भी है  लगता है किसी से मिलने की जल्दी मै है इन्तज़ाए मै बेसबर तो मै भी हूँ पर मै इसकी तरह नहीं मै इसपे… Continue reading वक़्त को मेरी क़दर नहीं